THINK FOR YOURSELF NOT FOR OTHERS


नमस्कार , जैसा की आपलोगो ने टाइटल में पढ़ ही लिया होगा (think for yourself not for others) इसका मतलब क्या है एक बात मै आप सब लोगो को बताना चाहता हूँ की इस पोस्ट में जिस टॉपिक के बारे में , मैं अपना नजरिया रखने जा रहा हूँ सिर्फ मेरे साथ नहीं हुआ है या ये कोई ऐसी बात नहीं है जो आपको पता नहीं इस टॉपिक हम सब जुड़े हुए है , हर कोई ये जनता है लेकिन वो आजतक अपने आप को ही नहीं बता पाया है 

हम सब कहाँ फसे पड़े हैं ??
क्या आपलोगो ने कभी सोचा है की आप आपने लाइफ के साथ कर क्या रहे है , इसका जवाब मै आपको देता हूँ की नहीं बिलकुल नहीं आपने कभी सोचा ही नहीं है और क्यों नहीं सोचा ये भी मै आपको बता देता हूँ क्युकी आप में हिम्मत नहीं , जी हाँ आप में हिम्मत नहीं है की आप अपने लाइफ के बारे सोच सके , आपमें हिम्मत नहीं ये बात अपने आप से पूछने की , की आपको क्या करना है जिससे आप खुद को satisfy कर सके और अपने लिए जिए अरे  कहा से जियेंगे यार हमे हमेशा से बचपन से तो यही सिखाया गया है की तम्हे लाइफ में successful  होना है तो पढ़ना है , Respect , चाहिए तो पढ़ना सब कुछ के लिए पढ़ना है example लेते है मान लीजिये एक बच्चा है अब उसे थोड़ी न पता है उस वक़्त था की उसे अपने लिए क्या करना है , बिलकुल पता नहीं उसे तो अभी जो बताया जाएगा वो वही न करेगा !!

thinking

1 class में गया वो तो उसे बोला गया की 2nd class में जाने के लिए उसे अच्छे नंबर लाने होंगे ठीक है , उसके बाद उसे बोला जाएगा की 3rd class में जाने के लिए 90% लाने होंगे अरे यार अभी तक तो उसने उतने नंबर का टेबल तक नहीं पढ़ा होगा जितने का उसे नंबर लाने बोला जा है , चलो ठीक है अगर वो थोड़ा होशियार होगा तो ये भी करने की कोशिश करेगा लेकिन इसके बाद उसके लाइफ में एक ऐसी प्रॉब्लम आती है जिससे की उसकी पूरी लाइफ हिल जाती है , दूसरे शब्दों में कहे तो उसकी लाइफ का सबसे पहला और टॉप कोर्स जिससे उसकी लाइफ आगे और भी बिगड़ने वाली है जिसका नाम है TORTURE FAMOUS THING IN THE WORLD FOR ANY STUDENT AT ANY COURSE AND ANY STAGE ये तो सभी को पता है लेकिन क्या आपको पता है की जब कोई बच्चा 9 या 10 class में होता है या उस वक़्त जैसी age में होता हम सभी के साथ हुआ की हमारे दिमाग में कुछ interesting या मजेदार करने का मन करता है कुछ नया सिखने का मन करता है की एक बार 10 complete हो जाये उसके बाद मै अपने  passion को follow करूँगा और कुछ नया सीखूंगा और उसे अपना profession बनाऊँगा और लाइफ एन्जॉय करूँगा , लेकिन क्या वो ऐसा सच मे कर पाता है बिलकुल नहीं क्युकी जो डर उसके मन में उस समय था उससे वो उभर ही नहीं पाया !!

डर से ऊपर आओ 
ये डर सुनने में बहुत छोटा है लेकिन किसी के भी लाइफ ये एक पल में खत्म क़र सकता है , हम सब किसी न किसी डर को अपने ऊपर लेकर चल रहे है जिसके कारण हम अपने आप को आपने अंदर ही खत्म करते जा रहे है और अपने आप को समझ नहीं पा रहे है की हमे करना क्या है..

thinking

देखिये एक बात तो में साफ़ कर देता हूँ जितने भी लोग इस पोस्ट को पढ़ रहे है और कल दोबारा से वो वही करने वाले है जो वो आज कर रहे थे तो आप इसे न पढ़े मुझे views नहीं चाहिए अगर आपको अपने लिए कुछ नहीं करना है और जो आप सपने में जी रहे है तो आप वैसा ही करे क्युकी इस पोस्ट में मैं सपने से निकल कर हक़ीक़त की बात करने जा रहा हूँ और क्युकी हक़ीक़त है तो कड़वी तो होगी ही , जो हम dreams देखते है वो सब सिर्फ सपने है यानि झूठ है अपने बारे में सोचना अपने लिए कुछ करना , अपनी लाइफ को अपने हिसाब से जिओ अपने हिसाब से मेरा मतलब है की positive way में मतलब की जो हमारे लिए beneficial है  दुसरो का सुन कर कुछ नहीं करना है कौन क्या बोलता है उससे अपने को फ़र्क़ नहीं पड़ना चाहिए यही REALITY है !!





सबसे बड़ा रोग क्या कहेंगे लोग 
ऊपर वाली लाइन जो अपने पढ़ी वो सबसे फेमस लाइन है हिंदुस्तान में क्युकी ये एक दुनिया बन गयी और आपको ये बात सुन के बुरा लगेगा लेकिन क्या करे यही सच है और हर कोई इसी दुनिया में जी रहा आज के वक़्त में क्युकी सबसे ज़्यदा हम इसी को importance दे रहे है।
जो कुछ भी सुख दुःख हो रहा है वो mind के level पे हो रहा है हमे दिमाग को control करना है लेकिन दिमाग हमे control कर रहा है , अगर ऐसी भाषा जो आपको समझ ही नही आती है उसमे कोई आपको गाली देगा तो आपको फ़र्क़ पड़ेगा बिलकुल नहीं , हम लोग क्या सोच रहे है की हमे पढ़ना , पढ़ के नौकरी लेनी है पैसे कमाने है फिर लाइफ सेट है ये सब बाते हमारे दिमाग में डाल दी गयी है बचपन से ही हमारे फैमिली के लोगो के द्धारा या पड़ोसियो के द्वारा या फिर हमारे खुद क दिमाग में भी ये आ सकता है दूसरे को देख के की वो इतना आगे बढ़ते जा रहा है और मै अभी तक वही हूँ था ये भी हो सकता है comparison ही सबसे बड़ी problem है इसी में तो हम सब जी रहे है दुसरो को दिखाने के लिए , कुछ बनने के लिए ये बन कर मेरी लाइफ सेट हो जाएगी मेरे सारे सपने सच होजाएंगे  लेकिन ऐसा कुछ  होता नहीं है क्युकी सपने तो बदलते रहते है। 
सपनो को सच नहीं करना है क्युकी ये एक ? है हम सब सपनो की दुनिया में रह रहे हमे reality में आना है ,
reality को जानने से क्या होगा जो कुछ भी हमारे दिमाग में बैठा हुआ है वो सब खत्म हो जाएगा और हमारी पूरी thought process change  हो जाएगी जिसके बाद हम आपने आप को समझने लगेंगे!!   
                                             
thinking

thinking
आप सोचते हो की example ले लेते की मुझे डॉक्टर बनना है इसलिए लिए मुझे 12 घंटे दिन में पढ़ना है कोंचिंग करना फिर बाहर कहि जाके 4 साल का कोर्स करना है ये क्या है ये सब बाते कहा से आयी है ये सब आपके दिमाग में कैसे आया लोगो की बातो को जो खुद negative thought वाले लोग है वो तो आपको भी negative ही बताएंगे इस बात से आपको फ़र्क़ नहीं पढ़ना चाहिए लेकिन हम दुसरो के बातो को सुन कर अपने positive thought को खत्म करते है और हम ये सब छोड नहीं सकते क्योंकी हम सोचते है लोग क्या कहेंगे अरे भाई आप कुछ भी करो अच्छा भी करोगे तो लोग कहेंगे क्युकी वो यही कर सकते है अगर आपको लगता की आप जो कर रहे हो और इसीलिए क्र रहे हो की लोग क्या कहेंगे ये तो आपकी बेवकूफी है आप कुछ भी जिसको जो कहना है वो तो कहेगा ही अगर आप किसी की तारीफ़ भी करोगे तो वो मन में जरूर सोचेगा की इसको जरूर मेरे से कुछ काम है इसीलिए ये तारीफ़ करके बात कर रहा है , लोगो का क्या यर आप अपने बारे में सोचो न दूसरा क्या सोच ये भी अगर आप ही सोचोगे तो ये तो आप उसके पेट पर लात मार रहे हो , बहुत से ये सोच कर करते जा रहे की भाई मै अकेला थोड़ी न कर रहा हूँ सभी तो कर रहे , अरे दोस्तों ये तो समझो की सब क्र रहे ह इसका मतलब क्या ये सही है नहीं ना गलत तो गलत होता फिर ये कब सोचोगे यही तो सोचना है.. 

इसका solution ( उपाय ) क्या है ?
देखिये मैँ कोई psychiatrist तो हूँ नहीं जो आपके दिमाग में घुस के नया software update कर दूँ और एक बात जान लीजिये कोई भी  डॉक्टर  या साइकेट्रिस्ट ऐसा नहीं कर सकता जो करना है आपको करना है, ऐसा भी हो सकता है की जिस स्टेज पर हम life की अगर हम इस सपनो में ही उलझे रहे तो हो सकता की हमारी life अभी जैसी है समय के साथ और बेकार हो जाये ऐसा बिकुल हो सकता है reality ये है की example ले लेते है की मन लीजिये आपके ऊपर preasure create कर दिया गया है की मान लो आपको engineering करनी है तो इसके लिए आपके parents आपका admission कहा करवाएंगे किसी टॉप की collage में क्युकी local collage में कोई पेरेंट्स अपने बच्चे का एडमिशन थोड़ी न करवाएगा क्युकी इंजीनियरिंग थोड़ी न जरूरी है और नहीं ल knowledge जरूरी बीएस degree चाहिए टॉप के collages से ताकि उस degree की value मिल सके simply अगर कहुँ तो अच्छी  नौकरी मिल सके ताकि अच्छा पैसा मिल सके सब तो पैसे का ही खेल है , आप अपने आप से पूछो की सच में आपको पढ़ने का मन है बिलकुल नहीं मुझे कुछ और करना है कुछ और सीखना है लेकिन क्या हम ऐसा करते है हम अपने लिए सोचते है नहीं क्युकी हमारे दिमाग में कुछ और बाते डाल दी गयी , हम क्या कर रहे है सिर्फ अपना torture करवा रहे है , पहले  स्कूल में अपना torture फिर college फिर किसी job के 
लिए 3 ,4  साल लगा दो और इतने सब के बाद जब आपको जॉब मिलती है मान लेते उसमे salary अच्छी मिल रही है लेकिन आपका satisfaction level और कम हो गया है तो आपको पता है आप क्या कर रहे हो , मतलब की 20 साल के torture के भी आप जो कर रहे उसमे आपको मज़ा नहीं आ रहा है तो क्या आप life जी रहे हो यार..
thinking
एक ही तो लाइफ है जो दिल करता है वो करो ना भाड़ में जाये दुनिया अपने satisfaction , happiness  के लिए करो भी ऐसा काम करो की जब भी उसके बारे में सोचो या फिर किसीको बताओ तो सामने वाले के चेहरे पर भी मुस्कराहट आ जाये।।
         
 अकेले आए है अकेले जायेंगे अरे जो करना है अपने लिए करो यार क्युकी ये दिन वापस नहीं आएँगे..

live your life for your happiness , do what you want to do for enjoying your life and throw other peoples thinking and negativity out from your life !!                       

share please,share this post



follow my blog, follow my blog post

THANK YOU













SHARE

Milan Tomic

Hi. I’m Designer of Blog Magic. I’m CEO/Founder of ThemeXpose. I’m Creative Art Director, Web Designer, UI/UX Designer, Interaction Designer, Industrial Designer, Web Developer, Business Enthusiast, StartUp Enthusiast, Speaker, Writer and Photographer. Inspired to make things looks better.

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment

Featured Post

IPL 2019: सबसे ज्यादा रन बनाने से लेकर सबसे ज्यादा शतक बनाने तक ऐसे 3 रिकॉर्ड्स जो रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के विराट कोहली तोड़ सकते हैं इस साल..

IPL 2019: कैश-रिच इंडियन प्रीमियर लीग का 12 वां संस्करण 23 मार्च से शुरू होने वाला है, जब गत चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स रॉयल चैलेंजर बैंगल...